Credit Card : क्रेडिट कार्ड की लिमिट कैसे बढ़ाएं ? जानिए क्या है इसके फायदे, अपनाएं ये जरूरी टिप्स आएंगे काम


how to increase credit card limit

Increase Credit Card Limit : क्रेडिट कार्ड की लिमिट को कई चीजें तय करती है. एक कार्ड से दूसरे कार्ड और यहां तक कि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी यह अलग हो सकता है

Credit Card Limit : आजकल ज्यादातर लोगों के लिए क्रेडिट कार्ड रोजमर्रा की ज़िंदगी का ज़रूरी हिस्सा बन गया है. लोगों को ये बात जाननी होगी कि क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने की एक सीमा होती है. आप ये अच्छे से जानते हैं कि आप अपने क्रेडिट कार्ड से असीमित राशि खर्च नहीं कर सकते. क्रेडिट कार्ड में एक लिमिट होती है जिससे ज्यादा आप खर्च नहीं कर सकते. यह आपकी खरीदने की क्षमता पर रोक लगा सकता है. लेकिन अगर आप चाहें तो अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट जरूर बढ़वा (credit card limit increase) सकते हैं. इसके आपको कई फायदे भी मिलते हैं. क्रेडिट कार्ड की लिमिट को कई चीजें तय करती हैं. एक कार्ड से दूसरे कार्ड और यहां तक कि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी यह अलग हो सकता है. आपकी पेमेंट करने की क्षमता के बारे में जो धारणा बनती है, बैंक उसी आधार पर लिमिट तय करता है.

Credit Card Limit में ये फैक्टर हैं शामिल :

Credit Card की लिमिट तय होने में आपकी आय सबसे महत्वपूर्ण फैक्टर है. एचडीएफसी बैंक के मुताबिक, आपकी आय जितनी ज्यादा होगी, आपकी क्रेडिट कार्ड लिमिट उतनी ही ज्यादा होगी. एक और चीज जो बैंक देखते हैं वह है आपका क्रेडिट स्कोर, जो आपके लोन के पेमेंट के रिकॉर्ड पर निर्भर करता है. आपका क्रेडिट स्कोर जितना ज्यादा होगा, आपकी क्रेडिट लिमिट (credit card limit) उतनी ही ज्यादा होगी. आपकी लिमिट तभी बढ़ेगी जब आप क्रेडिट कार्ड का सही इस्तेमाल करते हैं.समय पर बकाया पेमेंट करते हैं. ऑफर और रिवॉर्ड्स का सबसे बेस्ट इस्तेमाल करते हैं.

Credit Card की लिमिट ऐसे बढ़ा सकते हैं :
बैंक से रिक्वेस्ट कर सकते हैं: अगर आप बैंक से रिक्वेस्ट करते हैं तो यह आपके मौजूदा कार्ड की क्रेडिट लिमिट बढ़ा (How To Increase Credit Card Limit) सकता है. हां, निश्चित रूप से, यह आपकी क्रेडिट हिस्ट्री, क्रेडिट स्कोर और इनकम जैसे फैक्टर्स पर निर्भर करेगा. अगर आपके पास एक से ज्यादा कार्ड हैं, तो उस कार्ड का चयन करना जरूरी है जिसके लिए आप अपनी लिमिट बढ़ाना चाहते हैं.

इनकम बढ़ जाए तो बैंक को दे सकते हैं जानकारी :

कई बार बैंक को आपकी और बदलती अच्छी आर्थिक स्थिति के बारे में जानकारी नहीं होती है. अगर आपकी इनकम बढ़ गई है तो आप बैंक को अगर इसकी जानकारी देते हैं तो बैंक आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ाने (credit card limit) पर विचार कर सकता है.अगर आपके पास कई बैंक अकाउंट्स हैं जिनमें हर अकाउंट में छोटी रकम है, तो उन सभी को एक अकाउंट में रखना बेहतर है.

 

बैंक खुद भी सालाना लिमिट बढ़ा देते हैं :
आपके क्रेडिट कार्ड के पेमेंट हिस्ट्री और सही इस्तेमाल को देखते हुए कई बार बैंक अपनी तरफ से भी कुछ ऑफर और रिवॉर्ड के साथ आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट (credit card limit) बढ़ा देते हैं. इसके लिए आपको कोई कोशिश भी करने की जरूरत नहीं होती.

अपना क्रेडिट स्कोर मजबूत करें :

आप क्रेडिट कार्ड (credit card) का इस्तेमाल तो करते हैं लेकिन आपका क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर बिगड़ा हुआ है तो आप इसे सुधारने की कोशिश करें. इसे आप अनुशासन में रहकर समय पर भुगतान और पेमेंट कर सुधार सकते हैं. एक बार जब आपका क्रेडिट स्कोर बैंक के मानक के मुताबिक, हो जाएगा तो आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट (credit card limit) बैंक फिर बढ़ा सकते हैं.

Leave a Comment

error: Content Copy is protected !!
Belly Fat कम करने के लिए सुबह नाश्ते में खाई जा सकती हैं ये चीजे विश्व रक्तदाता दिवस 2023 महत्व शायरी (वर्ल्ड ब्लड डोनर डे) | World blood donor day theme, quotes in hindi CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!