Sagwara News : शहर में ट्रैफ़िक व्यवस्था अनकंट्रोल, हादसे की संभावना, ज़िम्मेदार बन रहे बेपरवाह, कौन सुधारेगा शहर के हालात?

Sagwara News : शहर में ट्रैफ़िक व्यवस्था अनकंट्रोल

सागवाड़ा। शहर के मुख्य मार्ग और ट्रैफिक व्यवस्थान अनकंट्रोल होती जा रही है। डूंगरपुर बांसवाड़ा को जोड़ने वाले शहर से गुजर रहे मुख्य मार्ग पर दुपहिया में चार पहिया वाहन बेतरतीब खड़े किए जा रहे हैं होली का त्योहार होने से शहर में ट्रैफ़िक व्यवस्था और बिगड़ गई है इसके बाद भी ज़िम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे। वाहनों का आवागमन बढ़ने से गलियाकोट मोड़, नर्सरी मोड़, ज़ील चौराहे व गोल चौराहे पर सड़क हादसों की आशंका बढ़ गई है। इसमें खासकर गोल चौराहे, ज़ील चौराहे व नर्सरी मोड़ पर यातायात पुलिसकर्मियों को तैनात करने की आवश्यकता है। यदि स्थानीय थाना पुलिस द्वारा शीघ्र ही यायातात पुलिसकर्मी तैनात नहीं किए जाते हैं तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।





गलियाकोट मोड़, नर्सरी मोड़ व गोल चौराहा पर रहती है हादसे की आशंका

हाइवे पर गलियाकोट मोड़, नर्सरी मोड़ की ओर जाने वाले वाले रास्तों के तिराहे एवं चौराहों पर भी कमोबेश यही हालात है। यहां वाहनों को डायवर्ट और कंट्रोल करने के लिए पुलिसकर्मी लगाने चाहिए। इसी प्रकार गोल चौराहे पर भी वाहनों की आवाजाही अधिक होती है। यहां वाहनों का अम्बार लग जाता है। बांसवाड़ा व डूंगरपुर की तरफ से आने वाले वाहनों के अलावा गामोठवाड़ा और पुराने शहर में आवाजाही से यहां भी हादसे होने की आशंका बनी रहती है। गोल चौराहे पर दिन में कई बार जाम लग जाता है। वाहन आडे़ तिरछे फंस जाते हैं। लेकिन यहां पर वाहनों को नियंत्रित करने के लिए कभी कभार ही यातायात पुलिस देखने मिलती है।



चौराहे व मोड़ पर लगा रखी है लालबत्ती

गलियाकोट मोड़, गोल चौराहा सहित अन्य मोड़ पर कहने को एक लालबत्ती लगा रखी है, लेकिन यहां अन्य बत्तियां नहीं लगाई है। ऐसे में इस लालबत्ती का यहां पर कोई महत्व नहीं है। थाना पुलिस को एक पुलिसकर्मी की दिन और शाम के व्यस्त समय मे ड्यूटी लगानी चाहिए, जो वाहनों को नियंत्रण में कर सके। वाहनों की संख्या बढ़ने से डूंगरपुर से बांसवाड़ा, आसपुर से सागवाड़ा की ओर आने वाले वाहन चालक अपने हिसाब से स्वयं ही रुक-रुक कर निकलते हैं। यदि पुलिसकर्मी तैनात हो तो एक तरफ के वाहनों को रोक कर दूसरी ओर डायवर्ट कर सकें। यदि पुलिस ने यहां की व्यवस्था नहीं सम्भाली तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। यहां पर इस अनियमितता के कारण आए दिन हादसे हो रहे है।

नर्सरी मोड़ व गोल चौराहे में हो चुके कई हादसे

मुख्य गोल चौराहा व नर्सरी मोड़ है। यह काफी व्यवस्त चौराहा है। यहां पर भारी तादात में वाहनों का आवागमन होता है।

गोल चौराहा व नर्सरी मोड़ पर आए दिन सड़क हादसे होते रहते है। कई बार वाहन चालक इंडिकेटर शुरू नही करते हैं, न ही मुड़ने का इशारा करते हैं, ऐसे में दुर्घटनाएं हो रही है। नर्सरी मोड़ पर शनिवार को एक क्रूजर जीप ने बाइक को टक्कर मार दी थी। हादसे में बाइक सवार दो युवको की मौत हो गई जबकि उनका एक अन्य साथी गंभीर घायल हो गया। यहां कई बाइक सवार जान गंवा चुके हैं।



 

WhatsApp GroupJoin Now
Telegram GroupJoin Now

Leave a Comment

error: Content Copy is protected !!
Belly Fat कम करने के लिए सुबह नाश्ते में खाई जा सकती हैं ये चीजे विश्व रक्तदाता दिवस 2023 महत्व शायरी (वर्ल्ड ब्लड डोनर डे) | World blood donor day theme, quotes in hindi CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!