Banking Rules Change 2022 : डिजिटल रूपी से लेकर कार्ड टोकनाइजेशन तक, इस साल बैंकिंग हो गई और आसान, आपके लिए बदला बहुत कुछ

Banking Rules Change 2022

Banking Rules Change 2022: केंद्रीय रिजर्व बैंक RBI ने सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) लॉन्च किया, जो अभी पायलट बेसिस पर लागू है. इसके अलावा बैंक के ग्राहकों के लिए बहुत सी चीजें बदल गईं, बैंकों ने ग्राहकों की आसानी के लिए कई सर्विसेज़ लॉन्च कीं, जिनपर हम यहां नजर डाल रहे हैं.

Banking Rules Change 2022: साल 2022 में बैंकिंग क्षेत्र के लिए कई बदलाव आए. सबसे बड़ा जो बदलाव रहा, वो डिजिटल रुपया को लेकर रहा. केंद्रीय रिजर्व बैंक RBI ने सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) लॉन्च किया, जो अभी पायलट बेसिस पर लागू है. इसके अलावा बैंक के ग्राहकों के लिए बहुत सी चीजें बदल गईं, बैंकों ने ग्राहकों की आसानी के लिए कई सर्विसेज़ लॉन्च कीं, जिनपर हम यहां नजर डाल रहे हैं.

 

आरबीआई का डिजिटल रूपी (RBI’s Digital Rupee- CBDC)
RBI ने 31 अक्टूबर, 2022 को पायलट प्रोजेक्ट के लिए CBDC लॉन्च किया. इसकी शुरुआत पहले होलसेल सेगमेंट के लिए की गई. इस प्रोजेक्ट में State Bank of India, Bank of Baroda, Union Bank of India, HDFC Bank, ICICI Bank, Kotak Mahindra Bank, Yes Bank, IDFC First Bank, और HSBC शामिल हुए हैं. इसके 1 महीने बाद आरबीआई ने चार शहरों में रिटेल ट्रांजैक्शन के लिए भी इसकी लॉन्चिंग की.

देश में 1 अक्टूबर, 2022 से कार्ड टोकनाइजेशन का रूल लागू हुआ. हर कार्डहोल्डर को अपने डेबिट और क्रेडिट कार्ड के जरिए ऑनलाइन पेमेंट करने पर मर्चेंट वेबसाइट, पॉइंट ऑफ सेल (POS) या जिस भी गेटवे पर पेमेंट करने पर कार्ड डिटेल्स देने की जगह टोकन देना होता है. पेमेंट एग्रीगेटर, पेमेंट गेटवे या मर्चेंट किसी भी ग्राहक का क्रेडिट या डेबिट कार्ड डाटा अपने पास स्टोर नहीं कर सकता. आरबीआई ने ऑनलाइन फ्रॉड को रोकने और ग्राहकों का डेटा सेफ रखने के लिए यह नियम लागू किया है.

 

SBI Whatsapp Banking
SBI ने इस साल नवंबर में पेंशनहोल्डर्स के लिए एक बढ़िया सर्विस चालू की. पेंशनर्स को अब पेंशन की स्लिप (Pension Slip) लेने के लिए ब्रांच के चक्कर काटने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि बैंक अपने ग्राहकों के सिर्फ एक Hi लिखने पर उनकी पेंशन स्लिप उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेज देगा. पेंशन की स्लिप प्राप्त करने के लिए एसबीआई ग्राहकों को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 9022690226 पर Hi लिखकर वॉट्सऐप करना होगा. इसके अलावा, एसबीआई अपने ग्राहकों को वॉट्सऐप पर अकाउंट बैलेंस और मिनी स्टेटमेंट चेक करने सहित कई सुविधाएं देता है. Punjab National Bank (PNB) और HDFC बैंक ने भी वॉट्सऐप बैंकिंग की शुरुआत की है.

 

Banking Metaverse
सरकारी बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने इस साल मेटावर्स में घुसने का ऐलान किया. HSBC Bank और JP Morgan Chase जैसे बड़े प्लेयर्स भी इस फील्ड में है. देखना होगा कि इस एडवांस टेक्नोलॉजी से ग्राहकों को क्या मिलता है.

 

डिजिटल लोन के खिलाफ बढ़ी सख्ती
डिजिटल तरीके से लोन ऑफर करने वाले ऐप्स कई बार धोखाधड़ी का सबब बनते हैं, जिसके चलते आरबीआई ने इस साल काफी सख्ती दिखाई है. आरबीआई ने बैंकिंग और डिजिटल लेंडिंग ऐप्स को यह गाइडलाइन जारी की है कि वो ग्राहकों से बस लोन देने और लोन रीपेमेंट के लिए जरूरी डेटा ही मांगें, जैसे की नाम और एड्रेस जैसी बेसिक जानकारी. वो बायोमीट्रिक एड्रेस नहीं मंगा सकते.

Leave a Comment

CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!