Insurance : बाइक का बीमा कराने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

Keep these things in mind before Insurance the bike
Photo : Coverfox.com

 

Bike Insurance : अगर आप भी अपने दो पहिया वाहन का बीमा कराना चाहते है और चाहते है कि आपको सबसे प्रभावी बीमा पॉलिसी मिल जाय तो हम आपको इसके लिए पांच उपाय बता रहे है.
बीमा कवरेज के बारे मे समझिये


दो पहिया वाहन का बीमा काफी महंगा हो सकता है क्योकि इसके मेंटेनेंस मे काफी रकम खर्च होती है. आम लोअग गलती यह करते है कि वे पहले दो पहिया खरीदते है फिर उसके बीमा खरीदने के बारे मे पूछताछ करते है.

अगर आप इससे पहले होमवर्क करके रखे तो आप अपना काफी समय और पैसा बचा सकते है. आप पहले से बीमा की कवरेज और प्रीमियम के बारे मे रिसर्च कर समय बचा सकते है.

सही कवरेज चुनना
आप दो पहिया वाहन के लिए बीमा पॉलिसी खरीदते वक्त सही कवरेज चुने. आपको यह देखना चाहिए कि किसी दुर्घटना की स्थिति मे बीमा कंपनी आपको किस बात के लिए कितना मुआवजा देती है. पूरी कवरेज ना सिर्फ आपको और आपके दोपहिया को होने वाले नुकसान को कवर करती है बल्कि इससे आप मानसिक रूप से भी संतुष्ट रहते है.

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस भी किसी दुर्घटना की स्थिति मे आपके लिए मददगार साबित होती है.

अतिरिक्त कवरेज पर दे ध्यान
अगर आपके पास महंगी बाइक है तो आप उसके लिए बीमा पॉलिसी मे अतिरिक्त कवरेज ले सकते हैं. बीमा पॉलिसी मे जीरो डेप्रिसिएशन कवर जैसी चीजे आपको इस बात की सुरक्षा देती है कि कुछ साल बाद भी आपकी बाइक के लिए मुआवजे का दावा करने मे आपको दिक्कत नही आएगी अगर बाइक पांच साल से कम पुरानी है तो आपको यह जरूर लेना चाहिए.

ब्रोकर की मदद ले
पिछले कुछ समय मे बाजार में बीमा बेचने वाले ब्रोकर की संख्या तेजी से बढ़ी है. दो पहिया वाहन के लिए बीमा खरीदते वक्त ब्रोकर आपको उससे जुड़ी महत्वपूर्ण चीजो के बारे में बेहतर तरीके से बता सकेगा.

आप अपने वाहन के मॉडल और उसकी भौगौलिक स्थिति के हिसाब से ब्रोकर की मदद से सही कवरेज ले सकेगे. ब्रोकर आपको यह भी बता सकेगा कि किसी दुर्घटना की स्थिति मे किस कंपनी का बीमा पॉलिसी आपको वाहन के किस पार्ट के लिए कवरेज देगा और किसके लिए नही देगा.

इसके साथ ही वाहन पर बैठे अन्य व्यक्ति के लिए कवरेज, सड़क किनारे मदद और डिस्काउंट आदि के बारे मे भी ब्रोकर आपको सही सलाह देगा.

बीमा का दावा करना
दो पहिया वाहन के मालिक के रूप में आपको यह भी पता होना चाहिए कि कब आपको बीमा की रकम के लिए दावा करना चाहिए और कब नही. दो पहिया वाहन बीमा के मामले में आपको वाहन के गिरने की वजह से क्षतिग्रस्त होने, एक्सीडेंट मे बड़े नुकसान, पार्ट्स/एक्सेसरीज चोरी होने और एक्सीडेंट मे घायल होने जैसी स्थितियों में ही बीमा की रकम पाने का दावा करना चाहिए.

Leave a Comment

error: Content Copy is protected !!
Belly Fat कम करने के लिए सुबह नाश्ते में खाई जा सकती हैं ये चीजे विश्व रक्तदाता दिवस 2023 महत्व शायरी (वर्ल्ड ब्लड डोनर डे) | World blood donor day theme, quotes in hindi CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!