Term Insurance Plan : क्या होता है टर्म इंश्‍योरेंस प्लान और लाइफ इंश्‍योरेंस प्लान ? जानिए इसे खरीदते समय किन बातों का रखें ध्यान

Term Insurance Plan vs Life Insurance Plan : टर्म इंश्‍योरेंस और लाइफ इंश्‍योरेंस को लेकर अक्‍सर लोगों के मन में संशय रहता है. इनके बीच बहुत मामूली सा फर्क होता है. यहां जानिए इसके बारे में.

Term Insurance Plan : आज के लाइफस्‍टाइल को देखते हुए कब किसके सामने मुश्किल हालात आ जाएं, इसके बारे में कोई नहीं जानता. इसलिए परिवार को वित्‍तीय सुरक्षा देना बहुत जरूरी है. ऐसे में इंश्‍योरेंस आपके लिए सुरक्षा कवच का काम करता है. लेकिन इंश्‍योरेंस भी कई तरह के होते हैं जैसे लाइफ इंश्‍योरेंस, हेल्‍थ इंश्‍योरेंस और टर्म इंश्‍योरेंस. इन सभी तरह के इंश्‍योरेंस में सबसे ज्‍यादा कन्‍फ्यूजन लाइफ इंश्‍योरेंस और टर्म इंश्‍योरेंस को लेकर होता है. आइए आपको बताते हैं कि क्‍या है टर्म इंश्‍योरेंस, ये लाइफ इंश्‍योरेंस से कितना अलग है और इसे खरीदते समय किन बातों का खयाल रखना चाहिए.

समझिए टर्म और लाइफ इंश्‍योरेंस का फर्क :

Life Insurance पॉलिसी जीवन को कवरेज देने का काम करता है. इसमें अगर इंश्योर्ड व्यक्ति के साथ किसी प्रकार की दुर्घटना होती है और उसमें उसकी मृत्यु हो जाती है, तो इंश्योरेंस कंपनी की ओर से उसके नॉमिनी या परिवार के सदस्‍यों को आर्थिक मदद के तौर पर डेथ और मैच्योरिटी बेनेफिट दोनों मिलते हैं.

Term Insurance एक तरह की जीवन बीमा पॉलिसी है जो सीमित अवधि के लिए निश्चित भुगतान दर पर कवरेज देती है. ऐसे में यदि बीमित व्‍यक्ति की मृ‍त्‍यु पॉलिसी की अवधि के दौरान हो जाए तो तो कवर की राशि नामांकित व्यक्ति को एकमुश्त दी जाती है. इससे परिवार को वित्‍तीय सुरक्षा मिल जाती है. टर्म इंश्योरेंस में लाइफ इंश्योरेंस की तरह मैच्योरिटी रिटर्न नहीं मिलता है.

Watch YouTube Video & Subscribe Now

टर्म इंश्योरेंस और लाइफ इंश्योरेंस में दिया जाने वाला बोनस :

टर्म इंश्योरेंस प्लान में किसी भी तरह का बोनस बीमा धारक को नहीं दिया जाता है, जबकि अन्य लाइफ इंश्योरेंस प्लान में उनकी नियम और शर्तों के आधार पर बीमा धारक को बोनस राशि प्रदान की जाती है. इसके अलावा टर्म इंश्योरेंस प्लान में व्यक्ति को किसी भी तरह का पेड-अप मूल्य भी प्रदान नहीं किया जाता है, जबकि अन्य लाइफ इंश्योरेंस प्लान के तहत आने वाली एंडोमेंट पॉलिसी में व्यक्ति को पेड-अप मूल्य प्रदान किए जाते हैं.

टर्म इंश्योरेंस और लाइफ इंश्योरेंस प्लान के लचीलेपन में होता है अंतर :

टर्म इंश्योरेंस में आप डेथ बेनेफिट के साथ साथ भिन्न प्रकार के राइडर जोड़ सकते हैं, जिससे आपकी पॉलिसी और सम्पूर्ण हो जाए. यह राइडर्स बीमा धारक को अलग अलग प्रकार के लाभ प्रदान करते हैं, जैसे यदि आपने अपनी पॉलिसी के साथ क्रिटिकल इल्निस राइडर लिया है और आपको कोई ऐसी बीमारी हो जाती है जिसके लिए यह राइडर सुरक्षा प्रदान करता है, तो आपको एक निर्धारित रकम प्रदान की जाएगी जिससे आपको अपने इलाज में आर्थिक सहायता मिल सकती है. अन्य लाइफ इंश्योरेंस प्लान में भी आप यह राइडर्स जोड़ सकते हैं. इसके अतिरिक्त आपको अलग अलग पॉलिसी अलग – अलग तरह से लचीलापन प्रदान करती हैं. जैसे यूलिप में आप अपने पैसे को अपनी पसंद के फंड में निवेश कर सकते हैं और जब भी जरूरत लगे तब आप अपना फंड बदल सकते हैं.

टर्म इंश्योरेंस और लाइफ इंश्‍योरेंस में कौन है बेहतर?

टर्म इंश्योरेंस प्लान में सिर्फ डेथ बेनिफिट होता है. इसमें किसी भी प्रकार का परिपक्वता लाभ नहीं होता है, जबकि अन्य प्रकार के लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी में अलग-अलग प्रकार के परिपक्वता लाभ बीमा धारक को दिए जाते हैं. इस बात को इस प्रकार से समझे कि कोई भी व्यक्ति टर्म इंश्योरेंस प्लान जब खरीदता है, तो उसके परिवारजनों को डेथ बेनिफिट का लाभ तभी मिलता है, जब इसे लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु टर्म पीरियड के समय हुई हो. जबकि अन्य लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी में ऐसा नहीं होता है. लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी में यह खास सुविधा है कि पॉलिसी का कार्यकाल पूरे हो जाने पर भी अगर बीमित व्यक्ति जीवित है, तो किसी प्रकार का परिपक्वता लाभ जरूर मिलता है. टर्म इंश्योरेंस प्लान में जो डेथ बेनिफिट की राशि प्रदान की जाती है, वह आम तौर पर अन्य लाइफ इंश्योरेंस से ज्यादा होती है.

टर्म इंश्‍योरेंस खरीदते समय इन बातों का रखें खयाल :

  • अपने इनकम बेस को समझिए और उसके आधार पर इंश्योरेंस कवर तय कीजिए. एक्सपर्ट्स मानते हैं कि टर्म इंश्‍योरेंस प्‍लान इनकम का 10-15 गुना होना चाहिए.
  • टर्म इंश्योरेंस को आप जितनी जल्दी खरीदेंगे, उतने फायदे में रहेंगे. कम उम्र में आप सस्ते प्रीमियम पर इंश्योरेंस को लॉक कर पाएंगे.
  • आमदनी के सोर्स, लोन और देनदारियां, पारिवारिक जिम्‍मेदारियां, लाइफस्‍टाइल, फाइनेंशियल गोल्‍स आदि का आकलन करने के बाद ही टर्म इंश्‍योरेंस प्‍लान खरीदें.
  • टर्म इंश्‍योरेंस प्‍लान को खरीदते समय उसकी शर्तों को अच्‍छे से पढ़ लें. ये देख लें कि किन वजहों से हुई मृत्यु को पॉलिसी में कवर किया जाएगा क्‍योंकि टर्म इंश्‍योरेंस में हर तरह की मृत्यु कवर नहीं होती. क्लेम का पैसा तभी मिलता है, जब पॉलिसीधारक की मृत्यु टर्म प्लान के तहत कवर होने वाली वजहों के चलते हुई हो.
  • टर्म इंश्‍योरेंस का प्‍लान ऑनलाइन खरीदना ज्‍यादा बेहतर है. इसमें आपको इंटरमीडियरी को कमीशन नहीं देना होता. प्रीमियम सस्‍ता होता है. आप खुद सारी डीटेल्‍स भरते हैं, इसके कारण गलती की गुंजाइश कम होती है.

2023 में भारत की 10 सर्वश्रेष्ठ टर्म इंश्योरेंस प्लान :

एस. नं प्लान क्लेम निपटान अनुपात(2021-2022) सम अश्योर्ड सैंपल वार्षिक प्रीमियम*
1. एचडीएफसी लाइफ क्लिक 2 प्रोटेक्ट लाइफ 98.66% 50 लाख – अनलिमिटेड रु. 7,185
2. आईसीआईसीआई प्रू आईप्रोटेक्ट स्मार्ट 97.82% 50 लाख – अनलिमिटेड रु. 8,021
3. मैक्स लाइफ स्मार्ट सिक्योर प्लस प्लान 99.34% 25 लाख से 3.5 करोड़ रु. 6,095
4. टाटा एआईए लाइफ इंश्योरेंस संपूर्ण रक्षा सुप्रीम 98.53% 50 लाख से नो लिमिट रु. 6,844
5 आदित्य बिड़ला लाइफ शील्ड प्लान 98.07% 50 लाख से अनलिमिटेड रु. 5,591
6. पीएनबी मेटलाइफ मेरा टर्म प्लान प्लस 97.33% 25 लाख से 2 करोड़ रु. 6,490
7. एसबीआई ई-शील्ड नेक्स्ट 97.05% 50 लाख – अनलिमिटेड रु. 7,519
8. बजाज आलियांज स्मार्ट प्रोटेक्ट गोल 99.02% 50 लाख से 10 करोड़ रु. 7,348
9. कोटक ई-टर्म प्लान 98.82% 25 लाख से नो लिमिट रु. 5,250
10. एडलवाइस टोकियो टोटल प्रोटेक्ट प्लस 98.09% 25 लाख से नो लिमिट रु. 4,902

Leave a Comment

error: Content Copy is protected !!
युवाओ में क्राइम थ्रिलर वेब सीरीज देखने का जोश, देखना न भूले 10 वेब सीरीज Belly Fat कम करने के लिए सुबह नाश्ते में खाई जा सकती हैं ये चीजे विश्व रक्तदाता दिवस 2023 महत्व शायरी (वर्ल्ड ब्लड डोनर डे) | World blood donor day theme, quotes in hindi CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!