Banswara : सिरफिरा आशिक रेप पीड़िता के टुकड़े-टुकड़े करना चाहता था, हॉस्पिटल ले जाते हुए चीखती रही- वो मुझे मार देगा; एक हाथ खराब हुआ, अब भी खतरा

Banswara News Today : बीए की स्टूडेंट के साथ रेप और फिर तलवार से हमला करने वाले मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता का एक हाथ खराब हो चुका है और दूसरे हाथ की भी हालत ठीक नहीं है। उसके सिर से लेकर शरीर के कई हिस्सों में गहरे चोट के निशान है। आरोपी ने तलवार से उस पर कई वार किए।

उसकी हालत देखकर एक बार तो डॉक्टर भी सहम गए। उदयपुर में पीड़ता का इलाज करने वाले डॉक्टरों का कहना है कि उसका बड़ा ऑपरेशन होगा। फिलहाल उसकी स्थिति खराब है। वहीं, दूसरी और पीड़िता के गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है और उसके घर में चीख पुकार मची हुई है।

वहीं, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मुख्य आरोपी कालू और पीड़िता एक दूसरे को पांच सालों से जानते थे। इस घटना का दूसरा आरोपी और कालू का दोस्त जीतू अब तक फरार है।

शादी से मना किया तो हमला कर दिया

पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि घटना रविवार रात करीब 2 बजे की है। वह गांव में ही एक हल्दी कार्यक्रम से लौट रही थी। उसके घर से करीब 300-400 मीटर दूर स्थित पुलिया के पास रात बाइक सवार दो लड़के आए। इनमें से एक कालू मईड़ा और दूसरा जीतू था। पीड़िता कालू को पहले से जानती थी। जीतू उसके साथ रहता था इसलिए वह उसे भी पहचानती थी। दोनों ने पीड़िता को रोका। कालू ने पीड़िता से पूछा कि वह उससे शादी क्यों नहीं कर रही है? इस पर पीड़िता ने कहा कि वह अभी शादी नहीं करना चाहती है। वह पढ़ रही है। जिस पर दोनों ने पकड़ लिया और रेप किया।

Banswara news today

युवती को साथ ले जाना चाहता था

पूछताछ में कालू ने बताया है कि जब युवती ने साथ चलने से इनकार किया तो उसने तलवार निकाल कर हमला करना चाहा था। लेकिन, युवती बचकर भागने लगी। थोड़ी दूर आगे जाने पर पीड़िता एक गड्ढे में गिर गई, इस पर कालू और जीतू दोनों पीछे-पीछे दौड़कर आए। कालू ने पीड़िता के सिर पर तलवार मारी। बचाव के लिए पीड़िता ने अपने दोनों हाथ आगे किए तो तलवार लगने से हथेली पर चोट लगी। इस घातक हमले से युवती के दाहिने हाथ की दो अंगुलियां और अंगूठा कट गया। दूसरा वार किया, तो इससे सिर में गंभीर चोट लगी।

घर के 300 मीटर दूर छिपा था कालू

बांसवाड़ा जांच अधिकारी डीएसपी सूर्यवीर सिंह ने बताया कि मंगलवार शाम को आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। कालू की लोकेशन घर के पास ही थी। आरोपी कालू की पीड़िता से 5 साल पुरानी पहचान थी, वो उससे शादी करना चाहता था, लेकिन परिवार के लोग राजी नहीं थे।

परिजन पीड़िता की सगाई दूसरी जगह कर रहे थे, इससे आरोपी नाराज था, पीड़िता भी युवक के खिलाफ हो गई थी। वो कालू से शादी नहीं करना चाहती थी। इसलिए कालू ने गैंगरेप और हत्या करने की साजिश रची।

कोटा में नौकरी कर रही थी

पिता ने बताया कि बेटी को पीड़िता को पढ़ाई में रुचि थी, इसलिए मैंने भी नहीं रोका। किसी तरह रुपयों का बंदोबस्त करके पढ़ाया। पीड़िता की 90 साल की दादी ने रोते हुए कहा कि ऐसे पापियों को केवल फांसी की सजा मिलनी चाहिए।

वह परिवार की मदद के लिए कोटा में एक प्राइवेट जॉब भी कर रही है। वो कोटा से कुछ दिन पहले ही आई थी और 7 मई को वापस जाने वाली थी। लेकिन इससे पहले उसके साथ यह घटना हो गई।

पीड़िता के चचेरे भाई ने बताया कि बांसवाड़ा से रेफर करने के बाद जब बहन को उदयपुर ले जा रहे थे तो वह बेहोशी की हालत में थी, लेकिन रास्ते में तीन से बार अचानक चीखी। उसने अपनी मां को याद करते हुए बोला कि आई वोट मार रहे हैं। इतना कहने के बाद खामोश हो जाती। उदयपुर में डॉक्टर ने बताया कि उसका ऑपरेशन करना पड़ेगा। फिलहाल उपचार जारी है।

Leave a Comment

error: Content Copy is protected !!
Belly Fat कम करने के लिए सुबह नाश्ते में खाई जा सकती हैं ये चीजे विश्व रक्तदाता दिवस 2023 महत्व शायरी (वर्ल्ड ब्लड डोनर डे) | World blood donor day theme, quotes in hindi CSK won the title for the 5th time in the IPL 2023 final Tata Tiago EV Review: किफायती इलेक्ट्रिक कार मचाएगी तहलका!